Ak Gailan Me Kitne Liter Hote Hai
Ak Gailan Me Kitne Liter Hote Hai
Advertisement

आपको भी यदि एक गैलन में कितने लीटर होते हैं? सवाल है तो इस पोस्ट में आपको इसका जवाब देने वाला हु तो चलिए आज की पोस्ट को शुरू करते है। क्या आपको पता है भारत में तरल वस्तु मापने के लिए कोनसी इकाई का इस्तेमाल होता है।

आपको इस बात का पता ही होगा की भारत में लीटर इकाई से तरल वस्तु को मापा जाता है। इस पोस्ट में हम जानेंगे की एक गैलन में कितने लीटर होते हैं? (Ak Gailan Me Kitne Liter Hote Hai) और साथ ही गैलन क्या है इसका इस्तेमाल कहाँ होता है?

एक गैलन में कितने लीटर होते हैं?

एक गैलन में कितने लीटर होते है: एक गैलन में 3.।78541 लीटर होते है।

1 गैलन = 3.।78541 लीटर

Advertisement
एक गैलन में कितने लीटर होते हैं
एक गैलन में कितने लीटर होते हैं

दोस्तों जैसे हमारे भारत देश में तरल वस्तु मापने के लिए लीटर इकाई का उपयोग किया जाता है। इसी तरह अमेरिका में तरल वस्तु मापने के लिए गैलन का इस्तेमाल किया जाता है।

अन्य पढ़े:

What is agar agar powder in hindi | अगर अगर पाउडर क्या है?
Razorpay क्या है | What is Razorpay in Hindi
भारत में कितने राज्य हैं | Bharat me Kitne Rajya Hai
गूगल डुओ क्या है? | Google Duo App Kya Hai

गैलन क्या है

गैलन तरल वास्तु मापने की एक इकाई है। गैलन के बाहरी देशों में 3 प्रकार है। अलग अलग प्रान्तों में इसकी इकाई बदल जाती है। इसके 3 मुख्य प्रकार है कुछ इस प्रकार।

  • इंपीरियल गैलन (imp gal), जिसे 4.।54609 लीटर के रूप में परिभाषित किया गया है, जो यूनाइटेड किंगडम, कनाडा और कुछ कैरेबियाई देशों में उपयोग किया जाता है या किया जाता है।
  • यूएस गैलन (यूएस गैल) को 231 क्यूबिक इंच (बिल्कुल 3.।785411784 एल) के रूप में परिभाषित किया गया है, जिसका उपयोग यूएस और कुछ लैटिन अमेरिकी और कैरेबियाई देशों में किया जाता है।
  • यूएस ड्राई गैलन (“usdr gal”), जिसे 1⁄8 यूएस बुशल (बिल्कुल 4.।40488377086 L) के रूप में परिभाषित किया गया है।

FaQ:

एक गैलन में कितने लीटर होते हैं?

एक गैलन में 3.।78541 लीटर होते है।

1 गैलन यानि कितने लीटर?

1 गैलन = 3.।78541 लीटर

आज हमने क्या सीखा:

आज की इस पोस्ट में हमने आपको एक गैलन में कितने लीटर होते हैं? (Ak Gailan Me Kitne Liter Hote Hai) इस सवाल का जवाब दिया है। साथ ही यह भी बताया है की गैलन क्या है और इसके 3 मुख्य प्रकारों के बारे में आपको इस पोस्ट में जानकारी दी गई है। आशा है की आपको हमारी पोस्ट पसंद आई होगी। तो चलिए मिलते है ऐसी ही एक अनोखी नयी पोस्ट में।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here